21 June, 2012

Raaste Badal Jaate Hain

Sad Shayari
रास्ते बदल जाते हैं, मंजिलें बदल जाती हैं,
 क्यों नहीं बदलते दिल जो तकदीरें बदल जाती हैं,
दिल वही रहता है, यादों की अनगिनत परछाईयाँ ले,
 आँखों की नमी छुपाकर, नजरें बदल जाती हैं,
रुह रहती है हर लम्हां अश्कबार, लब हँसते हैं,
 बाहर और अंदर की किस तरह फिज़ाऐं बदल जाती हैं,
कोई होता है रफ्ता-रफ्ता जिन्दगी से दूर, बहुत दूर,
 हाथों की ये लकीरें क्युँ अकसर बदल जाती हैं,


Raaste Badal Jaate Hain, Manzilain Badal Jaati Hain,
Kyun Nahin Badalte Dil Joh Taqdeerain Badal Jaati Hain,
Dil Wohi Rehta Hai, Yaadoon Ki Anginat Karchaiyaan Le Ke,
Aankhon Ki Nami Chupa Kar, Nazrain Badal Jaati Hain,
Rooh Rehti Hai Har Lamha Ashkbaar, Lab Hanste Hain,
Bahar Aur Andar Ki Kis Tarah Fizaain Badal Jaati Hain,
Koi Hota Hai Rafta Rafta Zindagi Se Door, Bohot Door,
Haathoon Ki Yeh Lakeerain Kyun Aksar Badal Jaati Hain.

1 comments:

  1. देखे दुनिया के सबसे बेहतरीन ब्लॉग में से एक ब्लॉग http://guruofmovie.blogspot.in/

    ReplyDelete