06 जुलाई, 2009

जवाब मिलता नही

बेकाबु है दिल फिर भी जीऐ जा रहा हुँ,

खाली है बोतल फिर भी पिऐ जा रहा हुँ,

मजबूरी तो देखो इस दिल की,

जवाब मिलता नही, पर संदेश किऐ जा रहा हुँ ।

0 टिप्पणियाँ

एक टिप्पणी भेजें