22 April, 2009

सलाम

लिखने से पहले सलाम करते है,
दर्द इस दिल से पैगाम करते हैं,
ये मत समझना के भूल गए है हम,
याद तोः आपको हम सुबह शाम करते है ।

0 comments

Post a Comment